Breaking News
Home / Interesting / नाबालिग बच्चे को चोरी करने की मिली ऐसी सजा कि सुनकर आपकी भी रूह काँप जाएगी

नाबालिग बच्चे को चोरी करने की मिली ऐसी सजा कि सुनकर आपकी भी रूह काँप जाएगी

चाहे कितनी भी बड़ी गलती हो कानून को हाथ में लेना बिलकुल भी सही नहीं होता. जब बात किसी नाबालिग की हो तो ये मामला और भी सख्त हो जाता है क्योंकि देश में नाबालिग और उनसे बड़े लोगों के लिए अलग नियम और कानून हैं. जिसके मुताबिक उन्हें सजा दी जाती है. ऐसे में अगर किसी नाबालिग से गलती होती है तो उसे उसके हिसाब से सजा दी जाती है लेकिन हमारे देश में किसी भी चीज़ को फॉलो करने को कहा जाए तो उल्टा उसका उलंघन ही करते हैं. आज हम आपको एक ऐसी ही घटना के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे सुन आपकी भी रूक काँप जाएगी.

नाबालिग ने की चोरी (image source : India.com)

नाबालिग ने की चोरी 

दरअसल, ये मामला पटना का है जहाँ से एक ऐसी तस्वीर सामने आई है जिसने इंसानियत को ही शर्मसार कर दिया. लोगों ने एक नाबालिग बच्चे को चोरी के आरोप में जो सजा दी वो वाकई रूह को कंपा देने वाली है. जैसे ही बच्चा लोगों के हाथ लगा उन्होंने चोरी करने के जुर्म पर उसे पुलिस के हवाले करना जरूरी नहीं समझा बल्कि खुद ही कानून को हाथ में लेते हुए उसे ऐसी सजा दी. जो शायद आपने आज से पहली कभी ना देखी हो.

नाबालिग के साथ गया क्रूर व्यवहार (image source : jagranimages)

लोगों ने नाबालिग को दी रूह को कंपाने वाली सजा

सबसे पहले वहां मौजूद लोगों ने नाबालिग बच्चे को निर्वस्त्र किया जिसके बाद उसकी बेहद बेरहमी से पिटाई की और उसे एक पेड़ से बाँध दिया. जब इन सब से भी लोगों का मन नहीं भरा तो उन्होंने बच्चे के शरीर में चीनी और पानी का खोल मिलाकर उसके शरीर पर डाल दिया. फिर उसके शरीर पर चीटियाँ को काटने के लिए छोड़ दिया. ऐसी परिस्थिति में वहां मौजूद लोग सिर्फ बच्चे को निहारकर देख रहे थे. किसी को भी उस नाबालिग पर दया नहीं आई.

मौके पर पहुंची पुलिस (image source :jagranimages)

नाबालिग को 3 घंटे तक चीटियाँ काटती रही और मन को विचलित कर देने वाली इस घटना को लोग मूकदर्शक की तरह देखते रहे. फुलवारीशरीफ थाना क्षेत्र की इस घटना पर भीड़ ने जिस तरह कानून को हाथ में लेते हुए नाबालिग को तालिबानी सजा दी वो बेहद हैरान कर देने वाली थी. 3 घंटे तक इसी तरह नाबालिग दर्द से तड़पता रहा लेकिन किसी ने ये सब कुछ देखकर उसकी मदद नहीं की. तीन घंटे तक ये सब कुछ झेलने के बाद किसी ने पुलिस को इस बात की सूचना दी और फिर पुलिस आई और उन्होंने बच्चे को भीड़ से छुटवाया और अपने साथ थाने ले कर चले गए.

NEWS SOURCE : jagran